Home CONSTITUTION Indian constitution part 12 objective questions in hindi

Indian constitution part 12 objective questions in hindi

39
0
indian constitution part 12

भारतीय संविधान वस्तुनिष्ठ प्रश्नोत्तरी भाग 12 प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी हेतु

indian constitution part 12

(१)  किस वाद में अनुछेद 31(c) के उस संशोधन को जो राज्य के सभी नीति निदेशक तत्वों को मूल अधिकारों पर वरीयता प्रदान करता था , शून्य घोषित किया गया ?

अ- केशवा नन्द भारती बनाम  केरल राज्य

ब- मिनर्वा मिल्स बनाम भारत संघ

स- एम.के . राय बनाम भारत संघ

द- उपरोक्त में से कोई नही

 

(२)  संवेधानिक उपचारों का अधिकार दिया गया है ?

अ- अनुछेद 31 में

ब-  अनुछेद 32 में

स-अनुछेद30 में

द-अनुछेद 33 में

 

(३)  किस आयु से कम के बच्चो को किसी फेक्ट्री या खान में रोजगार पर नहीं रखा जा सकता ?

अ- 10 वर्ष

ब-  14 वर्ष indian constitution part 12

स-  15 वर्ष

द-  18 वर्ष

 

(४)  कौन से अनुछेद के अधीन मूल अधिकारों के प्रवर्तन के लिए रिटे निकालने की शक्ति  उच्चतम न्यायालय और उच्च न्यायालय को दी गयी है ?

अ- अनुछेद32

ब- अनुछेद 226

स- अनुछेद 32 और अनुछेद 226 दोनों

द- न तो  अनुछेद 32 और और न ही अनुछेद 226

indian constitution part 12

(५)  संविधान में लोकहित वाद की उत्पत्ति किस अनुछेद से हुई है ?

अ- अनुछेद 226

ब- अनुछेद 32 indian constitution part 12

स- अनुछेद136

द- अनुछेद 245

indian constitution part 12

Constitution part – 12

Pdf file – 73 kb

DOWNLOAD

(६)  एक व्यक्ति उसके मुलभुत अधिकारों का उलंघन होने पर उच्च न्यायालय को आवेदन कर सकता है ?

अ- अनुछेद 20 के अंतर्गत

ब- अनुछेद32 के अंतर्गत

स- अनुछेद 226 के अंतर्गत

द- अनुछेद 22 के अंतर्गत

 

(७)  मूल अधिकारों के हनन होने पर प्रभावित व्यक्ति रिट याचिका प्रस्तुत कर सकता है ?

अ- केवल उच्च न्यायालय में

ब- केवल उच्चतम न्यायालय में

स- उच्च न्यायालय या उच्चतम न्यायालय में

द- जिला न्यायाधीश के न्यायालय में

 

(८)  निम्न में से कौन सी रिट उछ न्यायालय द्वारा जारी की जा सकेगी ?

अ- प्रतिषेध indian constitution part 12

ब- परमादेश

स- उत्प्रेष्ण

द- ये सभी

indian constitution part 12

(९)  उच्चतम न्यायालय ने लोक हित के मुकदमो के लिए अधिकारिता का आधार पाया –

अ- राज्य के नीति निदेशक तत्वों में

ब- संविधान की उद्देशिका में

स- अनुछेद 32(1) में

द- अनुछेद 35 में

 

(१०) यदि किसी अधिनियम की कोई धारा शून्य हो जाती है तो –

अ- अधिनियम शून्य हो जायेगा

ब- अधिनियम अवैध हो जायेगा

स- उस धारा को हटाने पर अधिनियम वैध हो जायेगा

द- कोई नहीं

शेष भाग अगले पेज पर …………..

डेली Current affairs और Gk के लिए आज ही हमारा मोबाइल एप ” Daily Gk” डाउनलोड कीजिये .

 

प्लीज मोबाइल एप्प डाउनलोड कीजिये ,और रेटिंग कर अपनी राय जरुर दीजिये }

              madhya pradesh ki bhogolik sanranchna part 4         app  FREE DOWNLOAD
madhya pradesh ki bhogolik sanranchna part 4

 Online Sikho               app 

FREE DOWNLOAD

 Veg recipe                    app

FREE DOWNLOAD
madhya pradesh ki bhogolik sanranchna part 4

 First in India

            app

FREE DOWNLOAD
madhya pradesh ki bhogolik sanranchna part 4

  Weight Lose

          app

FREE DOWNLOAD

MPLRC

APP

FREE DOWNLOAD

BAL VIVAH

APP

 FREE DOWNLOAD

CPC APP

FREE DOWNLOAD

CRPC 

APP

FREE DOWNLOAD

IPC APP

FREE DOWNLOAD

SPECIFIC

APP

FREE DOWNLOAD

CONSTITUTION

APP

FREE DOWNLOAD

LIMITATION

APP

FREE DOWNLOAD
 

CHILDS

APP

 FREE DOWNLOAD
 

WOMENS

APP

 FREE DOWNLOAD
 

DAHEJ

APP

 FREE DOWNLOAD

SUCHNA KA ADHIKAR 

APP

FREE DOWNLOAD

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here